मेरी प्यारी माँ तुमसा कोई नहीं

माँ ही आपकी प्रथम मित्र होती हैवह ही आपकी सबसे करीबी मित्र होती है और वह ही आपकी हमेशा के लिए मित्र रहती है. जब आप अपनी माँ की आँखों में देखते है तब आप दुनिया का वह शक्श देख रहे है जिसकी आँखों में आपके लिए सबसे अधिक प्यार है माँ ग्लू की तरह …

Read moreमेरी प्यारी माँ तुमसा कोई नहीं