महंगी गुड़िया का रहस्य

एक दिन एक लड़का बाजार में घूमने गया। उस समय वहां मेला लगा हुआ था और मेले में तरह तरह की चीजें होती हैं, झूले होते हैं, खाने-पीने की चीजें होती हैं, तरह तरह के लोग वहां आते हैं और अपनी मनपसंद की चीजें खरीदने लगते हैं। वह लड़का भी उसी मेले में जा पहुंचा और उसने पूरे मेले का भरपूर आनंद उठाया। और जब घर जाने की बारी आई तो वह घर की ओर लौटने लगा। तभी उसकी नजर उस मेले में आए एक अनजान व्यक्ति पर पड़ी। उसने देखा कि वो तीन गुड़ियों को जो कि एकसमान थीं, बेच रहा था। लेकिन अलग अलग मूल्य पर। वह लड़का बड़ा परेशान हो गया।

उस व्यक्ति ने तीन गुड़ियों को जो बिल्कुल भी अलग नहीं लग रही थीं। एवं एकसमान ही नजर आ रही थीं। उसको उस व्यक्ति ने तीनों ही गुड़ियों को अलग अलग दामों पर बेच रहा था। तो उस लड़के ने उस व्यक्ति से इनका मूल्य पूछा, तो व्यक्ति ने जवाब दिया कि पहले गुड़िया का दाम है 50 रुपये। दूसरी गुड़िया का दाम है 100 रुपये। एवं तीसरी गुड़िया का दाम है 1000 रुपये। उस लड़के ने पूछा कि इन तीनों ही गुड़ियों के दामों में इतना फर्क क्यों है।

तो व्यक्ति ने बड़ी ही सरलता से उसको इसके बारे में समझा कर बताया। उसने एक लकड़ी का पतली सी डंडी जिसे सीक बोलते हैं उसने उठाया और पहली गुड़िया के कान में डालीं लेकिन वह आर-पार नहीं गई। जब उसने दूसरी गुड़िया पर यही प्रक्रिया दोहराई तो वह सीक दूसरी गुड़िया के आर-पार हो गई। एवं उसने अंत में तीसरी गुड़िया के कान में यह सीक डालीं। तो तीसरी गुड़िया ने उस सीक को अंदर ले लिया और वह सीक दोबारा वापस नहीं आ पाईं।

जिससे कि इसका यह मतलब है कि यदि आप पहले वाली गुड़िया की तरह किसी भी समझदार व्यक्ति की बात को बिल्कुल भी महत्व नहीं देते हैं और जीवन में सिर्फ अपनी मनमानी करते हैं तो वह जीवन में कभी भी सफल इंसान नहीं बन सकते हैं। एवं यदि आप दूसरी गुड़िया की तरह व्यवहार करते हैं तो इसका मतलब यह है कि आप सभी लोगों की बातों को सुनते हैं लेकिन जो मन में आता है वही करते हैं। चाहे फिर आपको इससे सफलता मिले या असफलता।

परन्तु यदि आप तीसरी गुड़िया की तरह व्यवहार करते हैं जो सभी लोगों की बातों को सुनता है और उसे अपने अंदर समां लेता है। जो उसके वर्तमान समय के साथ-साथ उसका भविष्य भी सुरक्षित रखने में काफी मदद करता है। इसका अर्थ यह होता है कि आप अपने जीवन में कौन सी गुड़ियां बनना चाहते हैं। यह तो सिर्फ आपको ही डिसाइड करना है।

Leave a Comment